s

8th हिन्दी विशिष्ट मॉडल प्रश्नपत्र - वार्षिक परीक्षा || Hindi Vishisht Model Question Paper Class 8th Annual Exam 2022-23

   5960   Copy    Share

वैकल्पिक प्रश्न
(प्रश्न क्रमांक 1 से 10)

प्रश्न 1. "नन्दन वन-सी फूल उठी वह छोटी-सी कुटिया मेरी।" उपरोक्त पंक्ति में वाचक शब्द है–
(अ) कुटिया
(ब) नन्दनवन
(स) फूल उठी
(द) सी
उत्तर– सी।

प्रश्न 2. 'खन्दक-खाइयों' में समास है–
(अ) तत्पुरुष
(ब) अव्ययी भाव
(स) कर्मधारय
(द) द्वन्द्व
उत्तर– द्वन्द्व।

प्रश्न 3. ............ 'संगीत सम्राट' कहे जाते हैं।
(अ) महान् गायक तानसेन
(ब) राजा मानसिंह तोमर
(स) उस्ताद अलाउद्दीन खाँ
(द) कुमार गन्धर्व
उत्तर– महान् गायक तानसेन।

प्रश्न 4. 'मिठाईवाला' शब्द में प्रत्यय है–
(अ) आईवाला
(ब) ईवाला
(स) वाला
(द) ला
उत्तर– वाला।

प्रश्न 5. अधम के उद्धारक भगवान ........... हैं।
(अ) श्री हरि विष्णु
(ब) श्री राम
(स) श्री कृष्ण
(द) महाशिव
उत्तर– श्री राम।

प्रश्न 6. शिवाजी ने मुगल शासक ......... के विरुद्ध अपनी तलवार उठाई थी।
(अ) अकबर
(ब) जहाँगीर
(स) शाहजहाँ
(द) औरंगजेब
उत्तर– औरंगजेब।

प्रश्न 7. वृक्ष का पर्यायवाची शब्द है–
(अ) कानन
(ब) तरु
(स) गिरि
(द) चक्षु
उत्तर– तरु।

प्रश्न 8. "आपकी यात्रा शुभ हो।" उपरोक्त वाक्य है–
(अ) प्रश्नवाचक वाक्य
(ब) इच्छाबोधक वाक्य
(स) आज्ञार्थक वाक्य
(द) सन्देहसूचक वाक्य
उत्तर– इच्छाबोधक वाक्य।

प्रश्न 9. 'आर्यभटीय' पुस्तक के .............. भाग हैं।
(अ) एक
(ब) दो
(स) तीन
(द) चार
उत्तर– चार।

प्रश्न 10. 'नमस्ते' शब्द में सन्धि है–
(अ) दीर्घ स्वर संधि
(ब) वृद्धि स्वर संधि
(स) व्यंजन संधि
(द) विसर्ग संधि
उत्तर– विसर्ग संधि।

लघुत्तरीय प्रश्न
(प्रश्न क्रमांक 11 से 20)

प्रश्न 11. कवि भारत में कौन-सा मन्त्र भरने की बात कह रहा है?
उत्तर– कवि भारत में नव अमृत मन्त्र भरने की बात कह रहा है।

प्रश्न 12. "सफलता की, विजय की, उन्नति की कुन्जी अविचल श्रद्धा ही है।" उपरोक्त पंक्ति का भाव स्पष्ट कीजिए।
उत्तर– हमारे अन्दर उद्देश्य (लक्ष्य) के प्रति अटूट विश्वास है तो निश्चय ही हम अपने उद्देश्य में सफल होते हैं। किसी भी चुनौती पर विजय प्राप्त करते हैं तथा लगातार उन्नति प्राप्त करते जाते हैं। अतः अटूट श्रद्धा (विश्वास) ही उपाय है-सफलता का, संघर्ष में विजय का; जीवन में उन्नति प्राप्त करने का।

प्रश्न 13. भारत का सर्वोच्च नागरिक सम्मान संगीत के क्षेत्र में किसे दिया गया था?
उत्तर– भारत का सर्वोच्च नागरिक सम्मान 'भारत रत्न' संगीत के क्षेत्र में लता मंगेशकर को दिया गया था।

प्रश्न 14. डॉ. चन्द्रा की माता जी का क्या नाम है?
उत्तर– डॉ. चन्द्रा की माताजी का नाम श्रीमती टी. सुब्रह्मण्यम है।

प्रश्न 15. अंग्रेजों ने बिरसा का दाह-संस्कार सार्वजनिक रूप से क्यों नहीं किया?
उत्तर– स्वतन्त्रता संग्राम के सेनानी के रूप में बिरसा को अंग्रेजों ने पकड़ लिया। वे स्वतन्त्रता की ज्योति लोगों में जगा चुके थे। बन्दी बनाये जाने से पूर्व बिरसा बीमार चल रहे थे। अदालत में पेश करने पर उनकी दशा बिगड़ गयी। उन्हें खून की उल्टियाँ होने लगीं। बिरसा जो मुण्डा समाज का उद्धारक था, सदा के लिए सो गया। इसलिए उपद्रव के भय से अंग्रेजों ने बिरसा का दाह-संस्कार सार्वजनिक रूप से नहीं किया।

प्रश्न 16. नदियों में बाढ़ आ जाने से क्या-क्या हानि होती है?
उत्तर– नदियों में बाढ़ आ जाने से गाँव के गाँव बह जाते हैं। सैकड़ों आदमी मर जाते हैं। जानवरों की तो गिनती ही नहीं। फसल भी बह जाती है। कई प्रकार के रोग फैल जाते हैं।

प्रश्न 17. राजा के मन में कौन-सी कुटिलता समाई हुई थी?
उत्तर– राजा के मन में आधा राज्य न देने का लोभ व कुटिलता समाई हुई थी।

प्रश्न 18. कोयल सबको अच्छी क्यों लगती है?
उत्तर– कोयल सबको अच्छी लगती है, क्योंकि वह मिठास भरी बोली बोलती है।

प्रश्न 19. सालिम अली का पूरा नाम क्या था?
उत्तर– सालिम अली का पूरा नाम सली भाई जुद्दीन अब्दुल अली था।

प्रश्न 20. 'उपमा' अलंकार में कौन-कौन से चार अंग होते हैं?
उत्तर– उपमा अलंकार के निम्नलिखित चार अंग होते हैं–
1. उपमेय (प्रस्तुत),
2. उपमान (अप्रस्तुत),
3. साधारण धर्म,
4. वाचक शब्द।

दीर्घ उत्तरीय प्रश्न
(प्रश्न क्रमांक 21 से 24)

प्रश्न 21. "आत्मविश्वास के बूते पर जीवन में सब कुछ करना सम्भव है," किसी एक महापुरुष का उदाहरण देते हुए उक्त कथन को स्पष्ट कीजिए।
उत्तर– आत्मविश्वास की ताकत कठिनाई पर विजय प्राप्त करने की सामर्थ्य देती है। आत्मबल के विकास से हम सफलता के मार्ग पर आगे ही आगे बढ़ते जाते हैं। अपने आत्मबल के द्वारा मनुष्य अवश्य ही भाग्यवान बन जाता है। अतः भाग्यवान वही है जो उचित दिशा में अपने कर्त्तव्य का पालन करता है और अपने लक्ष्य की साधना में अपनी सामर्थ्य और क्षमता में पूरा विश्वास रखता है। मन में सदा अच्छे शुभ विचारों को स्थान दीजिए। हमें सफलता और सौभाग्य दोनों ही प्राप्त होंगे। निराशा और उत्साहहीनता मनुष्य को आत्मबल से हीन बनाती है। जीवन सुख-दुःख के उतार-चढ़ाव से युक्त है। हम सदा उतार (दुःख) की बातें ही नहीं सोचते रहें। इन दुःखों का क्या कारण है, जीवन में उतार क्यों आया- इस पर विचार करना होगा और चढ़ाव (उन्नति) के उपाय करते हुए ऊँचे भावों से युक्त मन को मजबूती देते रहना चाहिए। अन्त में सुख का द्वार अवश्य खुलेगा- जो जीवन की सफलता में छिपा हुआ है। विजयमाला उन्हें अर्पित की जाती है जो चुनौतियों का मुकाबला करते हैं और सफल होते हैं।
हमारे समक्ष नेताजी सुभाषचन्द्र बोस का उदाहरण है, जिन्होंने अपने जीवन में सिर्फ चुनौतियों को ही चुना और सफलताओं के शिखर पर पहुँचते रहे। उनमें अटूट आत्मविश्वास था। इसके बल पर उन्होंने अपने विरोधियों की प्रत्येक कुचाल और कुचक्र को नष्ट किया। जीवन संघर्ष में सफलता के लिए अपनी क्षमता और सामर्थ्य में अखण्ड विश्वास होना चाहिए। इसके कारण जीवन में सब कुछ किया जाना सम्भव होता है।

प्रश्न 22. बीती बातों को भुलाने से क्या लाभ तथा क्या हानि है?
उत्तर– बीती बातों को भुलाने से ही लाभ है। भविष्य में लाभ होने की बात को ठीक तरह से सोच-समझ लेने के लिए घटित घटना को भुला देना आवश्यक है। घटित घटना से हमें निराश और हतोत्साहित नहीं हो जाना चाहिए। आगे के कार्य को सोच-समझकर कर, मन लगाकर करना चाहिए। फिर जो आसानी से हो सके उसे करना चाहिए। मन लगाकर काम करने से उसमें सफलता मिलती है। दुष्ट व्यक्ति भी फिर हँसी नहीं उड़ा पाते। मन में पक्का विश्वास करके अपने काम में जुट जाना चाहिए। इससे भविष्य में सफलता मिलती है। भविष्य में सुख प्राप्ति की आशा होती है। अतः जो घटना (बात) बीत गई (घटित हो गई) उसे भुला देने में ही लाभ है।

प्रश्न 23. भगवान झूलेलाल की पूजा क्यों की जाती है?
उत्तर– भगवान झूलेलाल की पूजा इसलिए की जाती है, क्योंकि वे साम्प्रदायिक सद्भाव और एकता के प्रतीक हैं। उन्होंने सम्पूर्ण मानव जाति के कल्याण के लिए समानता के आधार पर स्थापित धर्म की सराहना की। उन्होंने धर्म के सच्चे स्वरूप का विवेचन कर लोगों को सही आचरण करने की सलाह दी। उन्होंने तत्कालीन मुस्लिम शासकों को कट्टरपंथी रुख न अपनाने के लिए विनती की। उन्होंने साम्प्रदायिक सद्भाव और एकता कायम रखने के लिए लोगों को बताया कि सत्य एक है, ईश्वर एक है, अल्लाह एक है। उसके नाम व रूप अनेक हैं। भगवान झूलेलाल ने सभी लोगों को विनम्रता और अपने कर्त्तव्य धर्म का पालन करने का उपदेश दिया। उन्होंने लोगों में सद्बुद्धि बनी रहे, इसके लिए समय-समय पर सभाएँ कीं। इनका जन्म संवत् 1007 वि. में नसरपुर में सूर्यवंशी क्षत्रियकुल में हुआ। इनके पिता का नाम रतन राय और माता का नाम देवकी था। कहते हैं कि इनके जन्म के समय से ही प्रत्येक हिन्दू घर में कलश पूजन (वरुण की पूजा) होने लगा। भगवान झूलेलाल की पूजा-अर्चना करने से मन की अभिलाषाएँ पूर्ण हो जाती हैं। ऐसा माना जाता है।

प्रश्न 24. सुन्दरता की मृगतृष्णा का क्या तात्पर्य है?
उत्तर– किसी भी उद्देश्य को प्राप्त करने के लिए आदमी को निश्चित उपायों के माध्यम से अपने लक्ष्य (मंजिल) तक पहुँचना होता है, परन्तु उस व्यक्ति को यह भी ध्यान रखना चाहिए कि उस मार्ग पर काँटों रूपी रुकावटें होंगी। साथ ही, कभी-कभी कोमल घास के दलों से पूर्ण सुखदायी मार्ग होगा, नदियाँ और तालाब तथा झरने भी होंगे। उस सौन्दर्य की मृगतृष्णा उस पथिक को भ्रम में डाल देने वाली होती है। सौन्दर्य की मृगतृष्णा में आनन्द और जीवन की सफलता महसूस करना उसे भ्रमित कर सकता है। इसी भ्रम से पथिक अपने कर्त्तव्य पथ को छोड़ उत्तरदायित्व के निर्वाह करने से विमुख हो जाता है।

कक्षा 8 वार्षिक परीक्षा सत्र 2022-23 प्रश्न पत्र (हल सहित)
1. [1] मॉडल प्रश्नपत्र विषय हिन्दी (हल सहित) कक्षा आठवीं वार्षिक परीक्षा 2023
2. [2] मॉडल प्रश्नपत्र विषय हिन्दी (हल सहित) कक्षा आठवीं वार्षिक परीक्षा 2023
3. [3] मॉडल प्रश्नपत्र विषय हिन्दी (हल सहित) कक्षा आठवीं वार्षिक परीक्षा 2023
4. [4] मॉडल प्रश्नपत्र विषय हिन्दी (हल सहित) कक्षा आठवीं वार्षिक परीक्षा 2023
5. [5] मॉडल प्रश्नपत्र विषय हिन्दी (हल सहित) कक्षा आठवीं वार्षिक परीक्षा 2023
6. [1] मॉडल प्रश्नपत्र विषय अंग्रेजी (हल सहित) कक्षा आठवीं वार्षिक परीक्षा 2023
7. [2] मॉडल प्रश्नपत्र विषय अंग्रेजी (हल सहित) कक्षा आठवीं वार्षिक परीक्षा 2023
8. [3] मॉडल प्रश्नपत्र विषय अंग्रेजी (हल सहित) कक्षा आठवीं वार्षिक परीक्षा 2023

वार्षिक परीक्षा कक्षा 8 सत्र 2021-22 प्रश्न पत्र (हल सहित)
1. 6. [1] मॉडल प्रश्न पत्र विषय विज्ञान कक्षा आठवीं वार्षिक परीक्षा 2023
2. [2] मॉडल प्रश्नपत्र विषय विज्ञान (हल सहित) कक्षा आठवीं वार्षिक परीक्षा 2023
3. [3] मॉडल प्रश्नपत्र विषय विज्ञान (हल सहित) कक्षा आठवीं वार्षिक परीक्षा 2023
4. [4] मॉडल प्रश्नपत्र विषय विज्ञान (हल सहित) कक्षा आठवीं वार्षिक परीक्षा 2023
5. [1] मॉडल प्रश्नपत्र विषय सामाजिक विज्ञान (हल सहित) कक्षा आठवीं वार्षिक परीक्षा 2023
6. [2] मॉडल प्रश्नपत्र विषय सामाजिक विज्ञान (हल सहित) कक्षा आठवीं वार्षिक परीक्षा 2023
7. [3] मॉडल प्रश्नपत्र विषय सामाजिक विज्ञान (हल सहित) कक्षा आठवीं वार्षिक परीक्षा 2023
8. [1] मॉडल प्रश्न पत्र विषय गणित कक्षा आठवीं वार्षिक परीक्षा 2023

मॉडल प्रश्न पत्र कक्षा 6 सत्र 2022-23 (हल सहित)
1. [1] मॉडल प्रश्नपत्र विषय विज्ञान (हल सहित) कक्षा 6 वार्षिक परीक्षा 2023
2. [2] मॉडल प्रश्नपत्र विषय विज्ञान (हल सहित) कक्षा 6 वार्षिक परीक्षा 2023

I hope the above information will be useful and important.
(आशा है, उपरोक्त जानकारी उपयोगी एवं महत्वपूर्ण होगी।)
Thank you.
R F Temre
edudurga.com

Comments

POST YOUR COMMENT

Recent Posts

उचित मूल्य पर पुस्तक-कापियाँ, यूनिफॉर्म, एवं अन्य सामग्रियों हेतु सत्र 2024-25 में पुस्तक मेले का आयोजन हो सकता है।

1st अप्रैल 2024 को विद्यालयों में की जाने वाली गतिविधियाँ | New session school activities.

Solved Model Question Paper | ब्लूप्रिंट आधारित अभ्यास मॉडल प्रश्न पत्र कक्षा 8 विषय- सामाजिक विज्ञान (Social Science) | वार्षिक परीक्षा 2024 की तैयारी

Subcribe